Home / Hindi Attitude Status

Hindi Attitude Status

New Hindi Attitude Status For Whatsapp & Facebook

Hindi Attitude Status : Are you Looking for Hindi Attitude Quotes? Today We are going to Share the Collection of Best Hindi Attitude Status with You. Hindi Attitude Status for Whatsapp.

New Hindi Attitude Status For Whatsapp & Facebook

सुन ‪‎पगली‬ जैसा तु ‪‎सोचती‬ हो,, वैसा मै हु नहीं और ‪‎जैसा‬ मै हु ना,,,, वैसा तू ‪#सोच‬ भी नही सकती….

इंसान सिर्फ आग से नहीं जलता, कुछ लोग तो हमारे अंदाज से जल जाते है।

मेरे दोस्त केहते हैं तुम्हारे सब #StatuS एक नंबर रेहते हैं मैने कहा २ नंबर के काम मैने कभी किया ही नहीं|

अंदाज़ कुछ अलग ही हे मेरे सोचने का, सब को मंज़िल का शौख हे, मुझे रास्ते का ..।

लडकियां‬ क्या हमारी बराबरी करेगी.. वो जीतनी ‪इंगलिश‬ बोलती हे उतनी तो हम इंगलिश पी जाते हे!!!!!

हमसे हमारी ‪‎औकात‬ पूछ बैठे है तो आज ‪‎हम‬ उनको बता देते है….. हम वो है जिनका नाम सुनकर ‪‎बंदूके‬ भी रिवर्स ‪‎फायर‬ ठोक देती है….

कार में ‪#verna‬ और ‪‎प्यार‬ में ‪#मरना‬ हमे आज भी ‪#पसंद‬ है लेकिन फोर्ड में ‪‎figo‬ और ‪‎लड़की‬ में ‪ego‬ हमे आज भी पसंद नहीं है

हम जैसे सिरफिरे ही इतिहास रचते हैं, समझदार तो केवल इतिहास पढ़ते हैं..

हम अपना ‪#‎status‬ दिलो पर ‪#‎update‬ करते है ‪#‎facebook‬ पर नही..

तीन ही उसूल हैं मेरी जिन्दगी के आवेदन, निवेदन और फिर ना माने तो दे दना दन..

घमंडी लडकीया मुजसे दुर ही रहै क्यु की मनाना मुजे आता नही, और भाव मे कीसीको देता नही..

पसंद है मुझे.. उन लोगों से हारना… जो लोग मेरे हारने की वजह से पहली बार जीते हों..

 Attitude की बात तु मत कर क्योंकी, जिस Hospital मे तु Blood Test करवाती है, वो लोग भी मेरा AttitudeTest करते हैं..

‪वो बोली छोड Class को Film देख ने चलते है, मे बोला इतनी Selfish मत बन, उनके लिए भी सोच जो मेरे लिए Class मे हे..

‘हुनर’ सड़कों पर तमाशा करता है और ‘किस्मत’ महलों में राज करती है!!

औकात की बात मत कर पगली, हम तो इंटरनेट भी मेन बेलेंस पर चलाते है..

माना की तेरी एक आवाज से भीड हो जाती हे…लेकिन हम भी आहिर हे.. हमारी एक ललकार से पूरी भीड़ बिखर जाती हे ।।

तेवर तो हम वक्त आने पे दिखायेंगे.. शहेर तुम खरीदलो उस पर हुकुमत हम चलायेंगे..!!!

बादशाह नहीं बाजीगर से पहचानते है लोग.. ‘क्यूकी’ हम रानियो के सामने झुका नहीं करते..!!

मेरी खामोसी को कमजोरी ना समझ ऐ काफिर.. गुमनाम समन्दर ही खौफ लाता है ।

कुत्ते भोंकते हे अपना वजूद बनाये रखने के लिये.. और लोगो की खामोशी हमारी मौजूदगी बया करती हे ।।

शेर खुद अपनी ताकत से राजा केहलाता है, जंगल मे चुनाव नही होते.. ।।

में बंदूक और गिटार दोनों चलाना जानता हूं । तय तुम्हे करना हे की आप कौन सी धुन पर नाचोगे..।।

रियासते तो आती जाती रहती हे, मगर बादशाही करना तो.. आज भी लोग हमसे सीखते हे ।

खेल ताश का हो या जिंदगी का, अपना इक्का तब ही दिखाना जब सामने बादशाह हो ।

राज तो हमारा हर जगह पे है..। पसंद करने वालों के ‘दिल’ में, और नापसंद करने वालों के ‘दिमाग’ में..।।

गुमान न कर अपने दिमाग पे मेरे दोस्त, जितना तेरा दिमाग हे उतना तो मेरा दिमाग खराब रेहता हे !!

भाई की पहोंच दिल्ली से लेकर कब्रस्तान तक हैं, आवाज दिल्ली तक जाती हैं ओर दुश्मन कब्रस्तान तक ।

हम आहिर हे, प्यार से मांग लो ‘जान हाजिर’ वरना तलवारों से इतिहास लिखना हमारी परंपरा हे ।।

न कहा करो हर बार की हम छोड़ देंगे तुमको, न हम इतने आम हैं, न ये तेरे बस की बात है..!!

माँ ने कहा था कभी किसीका दिल मत तोडना.. इसलिए हमने दिल को छोड के बाक़ी सब तोड़ा !!

क्या करे बुरी आदत हे हमारी.. नर्क के दरवाजे के सामने खड़े होकर पाप करते हे !!

पसंन्द आया तो दिल में, नही तो दिमाग में भी नही ।

आहिरों का बस यही अंदाज हे, जब आते हे तो गरमी अपने आप बढ़ जाती हे ।

हमारी गोली जान नही लेती बोस.. दुसरो के अन्दर जानवर जगा देती हे ।

तुम गरदन जुकाने की बात करते हो, हम वौ है जो आंख उठाने वालो की गरदन प्रसाद मै बाट देते है..।।

हथियार तो सिर्फ सोंख के लिए रखा करते हे, खौफ के लिए तो बस नाम ही काफी हे ।

अकल कितनी भी तेज ह़ो नसीब के बिना नही जित सकती, बिरबल काफी अकलमंद होने के बावजूद.. कभी बादशाह नही बन सका ।

शायरी का बादशाह हुं और कलम मेरी रानी, अल्फाज़ मेरे गुलाम है, बाकी रब की महेरबानी ।

जिंदगीमें बडी शिद्दत से निभाओ अपना किरदार, कि परदा गिरने के बाद भी तालीयाँ बजती रहे…।।

हम आज भी शतरंज़ का खेल अकेले ही खेलते हे, क्युकी दोस्तों के खिलाफ चाल चलना हमे आता नही ..।

तू मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है मुझसे.. अगर जिद होती तो शाम तक बाहों में होती ।

हम उस ऊंचाई पर हे जहा तुम्हारे सर से ज्यादा उंचाई पर हमारे पांव रहते हे ।

मुझको पढ़ पाना हर किसी के लिए मुमकिन नहीं, मै वो किताब हूँ जिसमे शब्दों की जगह जज्बात लिखे है…!!

मेरे लफ्जों से न कर मेरे किरदार का फेसला, तेरा वजूद मिट जाएगा मेरी हकिगत ढूंढते ढूंढते !

मेरी फितरत में नहीं अपना गम बयां करना, अगर तेरे वजूद का हिस्सा हूँ तो महसूस कर तकलीफ मेरी..।।

जी भर गया है तो बता दो, हमें इनकार पसंद है इंतजार नहीं..!

जनाब मत पूछिए हद हमारी गुस्ताखियों की, हम आईना ज़मीं पर रखकर आसमां कुचल दिया करते है ।

मुझमे खामीया बहुत सी होगी मगर, एक खूबी भी है.. मे कीसी से रीश्ता मतलब के लीये नही रखता.

खून अभी वो ही है ना ही शोक बदले ना ही जूनून, सून लो फिर से, रियासते गयी है रूतबा नही, रौब ओर खोफ आज भी वही हें |

जीत हासिल करनी हो तो काबिलियत बढाओ, किस्मत की रोटी तो कुत्तेको भी नसीब होती है.!!

इतना भी गुमान न कर आपनी जीत पर ‘ऐ बेखबर’ शहर में तेरे जीत से ज्यादा चर्चे तो मेरी हार के हैं।।।

उसने कहा मत देख मेरे सपने, मुझे पाने की तेरी औकात नही, मेंने भी हस कर कहा, पगली आना हो तो आजा मेरे सपनो मे.. हकीकत मे आने की तेरी औकात नही.

पैदा तो में भी शरीफ हुवा था, पर शराफत से अपनी कभी नही बनी ।

तेरे ही नाम से ज़ाना जाता हूं मैं, ना जाने ये ‘शोहरत’ है या ‘बदनामी’.. बुरे हैं ह़म तभी तो ज़ी रहे हैं.. अच्छे होते तो द़ुनिया ज़ीने नही देती..!!

इसी बात से लगा लेना मेरी शोहरत का अन्दाजा.. वो मुझे सलाम करते है, जिन्हे तु सलाम करता हैं !!

वो मंज़िल ही बदनसीब थी जो हमें पा ना सकी.. वरना जीत की क्या औकात जो हमें ठुकरा दे ।

तुम जिन्दगी में आ तो गये हो मगर ख्याल रखना, हम ‘जान’ दे देते हैं मगर ‘जाने’ नहीं देते !!

किसी की क्या मजाल जो खरीद सकता हमको, वो तो हम ही बिक गये खरीददार देख के !

ज़हासे तेरी बादशाही खत्म होंती हे, वहासे मेरी नवाबी सुरु होती हे !

मेरी हिम्मत को परखने की गुस्ताखी न करना, पहले भी कई तूफानों का रुख मोड़ चुका हु.

मेरे बारे में इतना मत सोचना, दिल में आता हु, समज में नही ।

तू जिद हे इस दिल की, वरना इन आँखो ने, और भी हसीन चेहरे देखे हे ।

वो तरस जाएँगी प्यार की एक बूँद के लिए, मैं तो बादल हूँ किसी और पे बरस जाऊंगा।

बन्दा खुद की नज़र में सही होना चाहिए.. दुनिया तो भगवान से भी दुखी है !

वो खुद पर गरूर करते है, तो इसमें हैरत की कोई बात नहीं! जिन्हें हम चाहते है, वो आम हो ही नहीं सकते !!

Hath pe ghadi koyi bhi Badi ho… Lekin waqt apna hona chahiye

Dunia me SirF 2 Chize hi MasHoor Hai, Mera Style OR Mere GF Ki SmiLe….

Shukar MaaN Ke Maine tere se kabi ‘Mulaakat’ Nhi Ki, WarNaa Tere DiL Ko to TerE KhilaaF Krr DeTa….

Mai apne ghar ke sanskaro ko manta hu, warna tujhe kab ki teri aukaT dikha di hoTi!!

Hum ‘Kimat’ sE nHi ‘Kismat’ Se Mila Krte Hai…

Na chhuri rakhta hu..or Na pistol rakhta hu, DILWALO ka beta hu bas dil me jigar rakhta hu!

Log Ham se jal rahe hai..Lagta hai apne sikke bhe Is seher me chal rahe hai..

Umar se to mai chota hu lakin Bade-Bade Aashiq muje salam thokte Hai..

Zindgi me 2 Chize ke piche mat fago, 1 ladki or Dusri Bus yeh 2 chize Aati Jati Rahti hai..

ghulami to ham shirf apne maa baap kihi kartehe hai duniya ke liye to kal bhi badshah the or aaj bhi hai….

I love those people who can smile in trouble…

Maa Jab b mere layi dua karti hai, Raste ki her Tohkre muje salam karti hai..

Zindagi kaat rai hai.. cigrate ke dhuwe me.. sharab ke nashe me.. aor mout ke kuwen me!

Badi hai soch meri, bade hain plans.. Jo kuch bhi hoon,’cause of my fans..

I don’t use Apple product because of their logo.. The Apple has a bite taken out of it. Aur jhota khana mujhe pasand nahi…